हिंदी कहानी सयानी बकरी प्रेरणादायक कहानियां

सयानी बकरी;

एक जंगल था । खूब घना । लम्बा चौड़ा और सुन्दर । उसमें तरह – तरह के जानवर रहते थे । जंगल के बीच में घास के लम्बे चौड़े मैदान थे । जहाँ ढेर – सारे हिरन , नील गाय , जंगली भैंसे चरते – रहते थे । उन्हीं के बीच एक जंगली बकरी भी रहती थी । बकरी अकेली नहीं थी । उसके तीन प्यारे – प्यारे बच्चे भी थे । सफेद , काले भूरे चिंगों। वाले थे ।

ये बच्चे बड़े प्यारे थे और घास में खूब खेलते थे । बच्चे तो अपने में खेलते रहते थे।, मैदानी घास पर उछलते कूदते रहते थे। , एक दूसरे को पटका – पटकी करते मगर उसकी माँ बड़ी दुःखी रहती थीं । एक कहावत है ‘ बकरे की माँ कब तक खेर मनायेगी ? वह घड़ी आ गई , जिसके लिये बकरी डरा करती थी । यह अमावस की काली रात थी । लम्बे घने पेड़ों के बीच से हवा हू हू ‘ करती डराती दौड़ भाग कर रही थी ।

बूंदा – बांदी से सारा जंगल भीज गया था । दूर से कुत्तें भौंक रहे थे । दूर सियार भी हूआं – हुआं ‘ कर रहे थे । लगातार कई दिनों तक की बारिश से जंगल के जानवर भूखे थे । यह बकरी को मालूम था । उसे लगा कि उसके दरवाजे पर कोई जानवर आकर खड़ा हो गया है । उसने अनुमान लगाया कि यह कलमुँहा सियार ही होगा । उसने छेद से बाहर देखने की कोशिश की । मगर बेकार , वह समझ गई कि वह सियार ही होगा। अमावस की काली रात ने पूरे जंगल को काला कर दिया था । बकरी उठ बैठी । और अपना दिमाग लगाया बच्चों को बचाने के लिए। एक नाटक खेला। बकरी ने तेज आवाज में बोली- ‘ हाय हाय मेरे प्यारे बच्चों ! तुम लोग तीन दिन से भूखे हो । सत्यानाश हो इस बारिश का , उठो अब दुःख न हों।

यह प्लेटें टेबल पर लगाओ , तुम्हारा शिकार तो तुम्हारे दरवाजे पर खड़ा है । अब वही करो जो मैं कहती हूँ । ‘ बच्चे चिल्लाये , ‘ माँ खाना – खाना – खाना । ‘ उन्होंने जोर – जोर से प्लेटें में चम्मच बजाईं । तो सियार आवाज सुनकर भाग गया।

उसे डर था कि किसी दिन शेर , चीता , तेंदुआ , या भेड़िया उसके बच्चे को उठा ले जाएंगे । वैसे बकरी काफी तदुरुस्त थी । उन माँसखोरो के आगे भला उसकी क्या चलती ? फिर भी वह सदा चौकन्नी रहती थी । बच्चों को आस – पास ही रखतीं थी ? सूरज ढलने से पहले ही अपने घर चली जाती । मगर इससे क्या ? उसे मालूम था एक कलमुँहा सियार छुप – छुप कर उसके बच्चों को निहारा करता है । अपने मुँह से टपकने वाले लार को घटकता रहता है । उसे मालूम

था कि किसी न किसी दिन यह सियार धोखा करेगा । बकरी थी बडी सियानी । उसे यह कहावत मालूम थी ‘ सावधान को धोखा नहीं । ‘ तो सियार से अपने परिवार को बचाने के लिए यह तरकीब सोचने लगी । उसके बच्चे तो अभी छोटे थे । मगर सयानी माँ के सयाने बच्चे भी तो थे । बकरी माँ ने बच्चों को सब समझाया और सबका काम बाँट दिया । उन्हें बताया कि जब विपदा आ पड़े तो घबराना नहीं चाहिए ।

जमकर उसका मुकाबला करना चाहिए । साहस सौ रोगों की दवा है । मेरे बच्चों इसे गांठ बांध लो । आखिर बकरी अपने बच्चों को दाव सीखाने ने लगी। तो बकरी ने कहा- ‘ जरा सब्र करो , बस अभी मिला । ‘ मगर पहले शिकार तो करना पड़ेगा । तो उसने फकार कर कहा ‘ ओ बेटे बड़के , धीरे से पिछले दरवाजे से निकल कर उसकी पिछली टांगें जकड़ ले । ‘ ‘ ओ बेटे छुटके , अगले दरवाजे से निकल कर उसकी गर्दन चाब ले । ‘ ‘ ओ बेटी मंझली चढ़ जा अटारी पर और । कूद तो उसकी पीठ पर । तोड़ उसकी कमर , कर दे ढीला अंजर – पंजर । और फिर हम उसे घसीट कर घर में लाएंगे ।

फिर तुम लोग पेट भरकर खाना । ‘ माँ ने फिर पूछा ‘ डरोगे तो नहीं ? ‘ बच्चे चिल्लाए , ‘ नहीं , नहीं डरेंगे हमारे दुश्मन । ‘ माँ ने कहा , ‘ अच्छा तो फिर एक साथ निकल पड़ो । देखो घायल मत होना । बच्चे एक साथ खटक पटक करने लगे । बाहर सियार सब कुछ सुन रहा था । वह अपने को बड़ा शूरवीर समझाता था । मगर बकरी की बात सुनकर वह डर गया । जिसके बच्चे इतने निडर और बहादुर हैं । उनकी माँ कैसी होगी ? यहाँ से तो भाग निकलना ही ठीक है । तो‌ सियार दुम दबाकर भाग गया ,

अपने झुंड में जाकर हुआं – हुआं रोने लगे । बकरी ने जान लिया कि सियार भाग गया है । इस तरह कमजोर बकरी अपने बुद्धिबल से अपने बच्चों का जीवन बचा सकी । एक कहावत है अक्ल बड़ी कि भैस । सच पूछो तो बड़ी भैंस ही दिखती है । अक्ल तो कहीं दिखायी ही नहीं देती । मगर भैंस को उसके सामने हार माननी ही पड़ती है इस कहानी से यही शिक्षा मिलती है कि जो अपनी अक्ल का उपयोग ठीक समय पर ठीक ढंग से करते हैं , जीत उन्हीं की होती है ।

• Motivational, Hindi Shayari

• हिंदी कहानियां, एकता की कीमत,Price of unity

• नाई और भगवान बहुत एक अच्छी कहानी,Barber and god very good story

यदि आपके पास कोई हिंदी कहानी या आपकी मोटिवेशनल सोच जो आप शेयर करना चाहते हैं जो आपको लगता है कि इसे शेयर करना चाहिए। तो इस Website पर आप अपनी एक फोटो के साथ शेयर कर सकते हैं। E-mail करें। id है- ekahaniyan1234@gmail.com पसंद आने पर आपके नाम और आपकी फोटो के साथ प्रकाशित की जाएगी।

धन्यवाद्

Subscribe; Youtube

 

Educationhindime Share

Leave a Comment

error: Content is protected !!