सबसे गरीब आदमी कि कहानी ,Story of the poorest man

सबसे गरीब आदमी कि कहानी;

पुराने समय की बात है । एक गांव में एक महात्मा रहते थे , सिद्ध और विवेकशील थे। एक बार चलते मार्ग में उन्हें पड़ा हुआ एक पैसा मिला । महात्मा ने उसे झुककर उठा लिया । परन्तु वे सोचने लगे , भिक्षा में मुझे भोजन तो मिल जाता है । फिर क्यों मैंने यह पैसा उठा लिया ? बहुत सोचने के बाद महात्मा ने यह निश्चय किया कि इस पैसे को मैं दान कर दूंगा सबसे गरीब आदमी को ।

समय गुजरता गया । वे गरीब आदमी की तलाश में गाँव – गाँव , नगर – नगर घूमते रहे । । परन्तु दान देने लायक कोई गरीब उन्हें नहीं मिला । महात्मा जी घूमते – घमते उस राज्य की राजधानी में एक दिन पहुँचे । वहां उन्होंने देखा कि राजमार्ग पर राजा के साथ अस्त्र – शास्त्रों से सजी विशाल सेना चली आ रही है । राजा भी महात्मा को जानता था , पहचानता था । राजा अपने हाथी से उतर कर महात्मा को प्रणाम किया ।

राजा को आशीष देकर महात्मा ने कहा- ‘ राजन् ! अपना हाथ आगे करो । ‘ और उन्होंने अपनी झोली से एक पैसा निकालकर राजा के दाहिने हाथ पर रख दिया । राजा आश्चर्य चकित हो गया। राजा ने महात्मा से पूछा- ‘ महाराज ! यह क्या है ? ‘ महात्मा ने उत्तर दिया- ” देखते नहीं हो ? तांबे का एक पैसा है । मुझे रास्ते में पड़ा मिला था । मैंने यह सोचा था , इस पैसे को मैं सबसे गरीब आदमी को दूंगा । वह गरीब आदमी तुम हो । ‘ राजा ने नतमस्तक हो विनीत स्वर में महात्मा से कहा , महाराज आपके आशीर्वाद से मेरे खजाने में इतने हीरे जवाहरात हैं , कि तमाम वस्तुएं खरीद कर उनका मैं उपभोग कर सकता हूँ ।

महात्मा ने उत्तर दिया ‘ फिर भी राजन् तुम गरीब हो । यदि तुम्हारे खजाने में हीरे – जवाहरात का अम्बार लगा है , तो राजन ! अस्त्रों – शस्त्रों से सजी सेना कहा लेकर जा रहे हो ? और किस लिये ? आक्रमण करने ? या युद्ध में कितनों की जान जायेगी ? लोग अपाहित होंगे , मरेंगे भी । बच्चे अनाथ होंगे सुहागिनें विधवा होंगी । यह सब किसलिए ?

मात्र राज्य विस्तार के लिए और धन के लिये ? तब तुमसे गरीब मेरे नजर में और कौन हो सकता है ? ‘ राजा की नजरे झुक गई । सिक्के को मुट्ठी में जोर से भर लिया । महात्मा के चरण स्पर्श कर अपनी विशाल सेना को लौटने का आदेश दिया । राजा सेना के पीछे चलते हुए मुट्ठी में बंद सिक्के को बार – बार देख रहा था । मानो जंग में अनमोल खजाना जीतकर लौट रहा हो ।

• नाई और भगवान बहुत एक अच्छी कहानी,Barber and god very good story

• हिंदी कहानियां, एकता की कीमत,Price of unity

• नाई और भगवान बहुत एक अच्छी कहानी,Barber and god very good story

यदि आपके पास कोई हिंदी कहानी या आपकी Motivational सोच जो आप शेयर करना चाहते हैं जो आपको लगता है कि इसे शेयर करना चाहिए। तो इस Website पर आप अपनी एक फोटो के साथ शेयर कर सकते हैं। E-mail करें। id है- ekahaniyan1234@gmail.com पसंद आने पर आपके नाम और आपकी फोटो के साथ प्रकाशित की जाएगी।

धन्यवाद

Educationhindime Share

Leave a Comment

error: Content is protected !!